Who We Are

Welcome to al hind party

अल हिन्द पार्टी दिखाती है कि अल हिन्द बनाम भारत , 12 वीं शताब्दी तक क्या था जिसकी सीमायें तुर्की से फिलीपींस तक थी तथा भारत मे राज करने वालों ने किस प्रकार भारत में उपजे बौद्ध धर्म को संसार मे फैलाया आदि आदि l अल हिन्द पार्टी का मुख्य कार्य भारत की आजादी की लडाई 1857-58 को सत्यता के साथ संसार में दिखाना है

अतैव इसके लिये हमने अल हिन्द पार्टी के नाम से जहां सुप्रीम कोर्ट ( w.p.no. 549/2015) व दिल्ली हाई कोर्ट ( w.p. (c)8053/2016) मे केस किया वही आरटीआई मे केस करके केंद्रीय सरकार को मजबूर किया कि वह 1857-58 के 4 करोड से अधिक शहीदों के नाम अपने गजट पर प्रसारित करे , क्योंकि केंद्रीय व राज्य सरकारे न तो ग्रहमंत्रालय व शिक्षा मंत्रालय द्वारा आधी अधूरी बनाई 1857-58 की सूची को मानती है और न ही अपनी सूची उपरोक्त न्यायालयों को बताने को तैयार है हमारी अल हिन्द पार्टी के दबाव में केन्द्रीय सरकार ने 1857 की 150 वीं वर्षगांठ (2007) पर जहां पूरे देश से आये नौजवानों की मार्च मेरठ ( उत्तर प्रदेश ) से 10 मई 2007 को दिल्ली तक कराये जिसमें 50 हजार से अधिक देश के नौजवानो नेे भाग लिया तथा तत्कालीन राष्ट्रपति महामहिम एपीजे अब्दुल कलाम जी ने अपना भाषण दिया आदि l तब से अल हिन्द पार्टी प्रयासरत है कि 1857-58 का राष्ट्रीय युद्ध स्मारक इंडिया गेट नई दिल्ली पर बने आदि l

Mission (Al Hind Party)

अल हिन्द पार्टी पूरे देश में प्रचार प्रसार के द्वारा अपने केस की हाई कोर्ट 8053/2016 जिसमे कोर्ट द्वारा सरकार को सूची बनाने को कहा उस समय के शहीदो के आज के वंशजो को अपने महान बलिदानियो के नाम केंद्रीय एवं राज्यों की सूची मे जोडने हेतु निम्न 8 जगहो पर पत्र
1.राष्ट्रीय अध्यक्ष - अल हिन्द पार्टी , बी-2/40 सफदर जंग एन्कलेव नई दिल्ली 110029 ,Read More

Vision (Al Hind Party)

कोशिश की जा रही है कि जहां 1857-58 के शहीदो की सूची राष्ट्रीय स्तर पर तैयार की जाये जिसमे काला पानी सेलुलर जेल पोर्ट ब्लेयर में बंद 80 हजार के लगभग पीडितों की सूची केंद्र सरकार जारी करे तथा 1857-58 मे 4 करोड के लगभग दिल्ली , उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा, आंध्राप्रदेश, कर्नाटक, उडीसा, तमिलनाडु, केरल आदि से शहीदो की सूची तैयार करने मे हमारी बात सुने l Read More



What We Do

Our Gallery